कॉसमॉस - भारत - पानी का प्रबंधन बेहतर तरीके से करना

cosmos-india-large

 

 

 

लीड पीआई / एस

सेंटर फॉर इकोलॉजी एंड हाइड्रोलॉजी (सीईएच)

सहभागी(पार्टनरस)

भारतीय विज्ञान संस्थान, बैंगलोर
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर
भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान, पुणे
राष्ट्रीय जल विज्ञान संस्थान, रुड़की
कृषि विज्ञान विश्वविद्यालय, धारवाड़

अनुदानकर्ता

एनईआरसी सेंटर फॉर इकोलॉजी एंड हाइड्रोलॉजी

प्रारंभ और समाप्ति तिथि

जुलाई 2017 – जुलाई 2020

परियोजना का सारांश

खेती एवं फसलों के पैदावार के लिए मिट्टी की नमी की स्थिति, साथ ही साथ भूजल तथा मौसम पूर्वानुमान के पुनर्भरण के लिए भी महत्वपूर्ण है। कॉसमॉस इंडिया बड़े क्षेत्र (फील्ड स्केल औसत) की मिट्टी की नमी सेंसर का उपयोग करके स्थायी रूप से निगरानी रखने वाले स्टेशनों से वास्तविक समय की मिट्टी की नमी अवलोकनों को बचाता है। इस काम के उद्देश्य हैं:

  • जिला, राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर मिट्टी की नमी मानचित्रण(मैपिंग) की मौजूदा स्थिति में सुधार करना।
  • किसानों के लिए फसल के परिणामों तथा आय में सुधार के लिए कृषि-संबंधी परामर्श की जानकारी प्रदान करना।
  • लंबे समय तक पानी के उपयोग के लिए जल संसाधन की जानकारी एवं उसके बचाव के दृष्टिकोणों में योगदान करना

संपर्क नाम / ईमेल

Sunrise@ceh.ac.uk